गुजरात और राजस्थान में लगातार बारिश से जान-माल को भार, 70 लोगों की मौत

गुजरात और राजस्थान में लगातार बारिश से जान-माल को भार, 70 लोगों की मौत

Posted by

गुजरात और राजस्थान में लगातार बारिश से जान-माल को भारी नुकसान पहुंचाया है. बारिश की संभावनाओं को देखते हुए 100 से अधिक गांवों को खाली कराया जा चुका है. अब तक बारिश की वजह से दोनों राज्यों में कुल मिलाकर 70 लोगों की मौत हुई है.

बारिश की वजह से गुजरात के बनासकांठा जिले में बाढ़ ने एक बड़ी आपदा का रूप ले लिया है, जिसमें धानेरा तहसील सबसे ज्यादा प्रभावित हुई है. यहां बारिश की वजह से तकरीबन सब कुछ जलमग्न है. लोगों ने अपनी जान बचाने के लिए छतों का सहारा लिया है.

भयंकर आपदा जैसी स्थितियों में धानेरा क्षेत्र में अनाज के सभी गोदाम पानी में डूब चुके हैं. अनाज की सभी बोरियां पानी की वजह से खराब हो गई हैं. 24 घंटे के भीतर धानेरा में 250 MM, पालनपुर में 255MM, दांतिवाडा में 342 MM हुई बारीश ने यहां लोग का जन-जीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है. इसके साथ ही राजस्थान के सिरोही और माउन्ट आबू में हुई भारी बारीश से लोग प्रभावित हुए हैं.

 

इलाके की बनासन और सीपु दोनों ही नदियां उफान पर हैं. सीपु और दांतेवाडा बांध अपने खतरे के निशान से ऊपर है. बाढ़ के खतरे को देखते हुए 100 से अधिक गांवों को प्रशासन द्वारा खाली कराया गया है.

 

गुजरात के मुख्यमंत्री ने बाढ़ के स्थिति पर कहा कि अब तक 1800 से ज्यादा लोगों को बाढ़ में बचाया जा चुका है जिनमें 1500 लोग बनासकांठा जिले से हैं. इसके अलावा सेना, एनडीआरएफ, एयरफोर्स के चॉपर बचाव कार्य में लगे हुए हैं.

 

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे के लिए राज्य में अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में उत्तर गुजरात और मध्य गुजरात में भारी बारिश की संभावनाएं हैं.

बाढ़ को देखते हुए गुजरात सरकार ने 27 तारीख से शुरू होने वाली नर्मदा यात्रा और हेरिटेज वॉक कार्यक्रम को बारिश के चलते रद्द कर दिया गया है. इसके साथ ही राज्य सरकार ने मंत्रियों को राहत कार्य का जायजा लेने के लिए बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में भेजा है.