जाट आंदोलन: रेलवे ट्रैक पर ही चल रही चाय-पकौड़ी

जाट आंदोलन: रेलवे ट्रैक पर ही चल रही चाय-पकौड़ी

Posted by

राजस्थान के भरतपुर और धौलपुर में आरक्षण के लिए जाटों ने शुक्रवार से फिर से आंदोलन शुरू करते हुए चक्काजाम कर दिया है. रेलवे ट्रैक पर कब्जा जमा लिया है और मुख्य सड़क मार्गों पर भी जाम लगा दिया है. चक्काजाम करने वाले जाट आंदोलनकारी पटरी पर ही चाय-नाश्ता लेते नजर आ रहे हैं तो दोपहर के खाने की तैयारी भी चल रही है. की आग में परेशान आमजन।

 

Image Source: ANI

जाट आरक्षण संघर्ष समिति की अगुवाई में जाटों ने नेशनल हाईवे नंबर 11 पर दर्जनों स्थानों अवरोधक लगाकर जाम कर दिया. भरतपुर-कुम्हेर मार्ग की कंजोल लाइन के साथ ही डीग-अलवर रेलमार्ग भी जाम कर दिया गया है. वहज रेलवे स्टेशन पर भी जाटों का पड़ाव जारी है।

 

 

रेलवे पटरियों और हाईवे पर पड़ाव डाले बैठे जाटों के लिए वहीं पर खान-पान की व्यवस्था की गई हैं।नेशनल हाईवे पर स्थित बरसो का नगला, ऊंचा नगला ,नगला खुशहाल , बरताई का नगला पर सुबह से ही जाट समाज के लोग इकट्ठे हो गए और उन्होंने जगह-जगह झाड़ियां और पत्थर लगाकर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया है।

 

 

जाट आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक नेम सिंह फौजदार के नेतृत्व में प्रदर्शन कर रहे जाटों ने कहा कि हर कीमत पर ओबीसी में आरक्षण का लाभ लेकर रहेंगे. इस दौरान नेम सिंह फौजदार ने कहा कि भरतपुर धौलपुर के जाटों का सर्वे हुए 3 महीने से अधिक समय हो गया, लेकिन सरकार ने अभी तक आगे कार्रवाई नहीं बढ़ाई है. इस सर्वे रिपोर्ट को जल्द से जल्द कैबिनेट में पेश किया जाए।

 

 

समिति के संयोजक फौजदार ने चक्काजाम के पहले दिन कहा है कि सरकार ने उनकी मांगों के अनुरुप काम नहीं किया तो जिले के गांव-गांव में रास्त जाम कर दिए जाएंगे।