कांग्रेस का पलटवार’, पोस्टर में मोदी-शाह कौरव, राहुल गांधी को कृष्ण के रूप में दिखाया

कांग्रेस का पलटवार’, पोस्टर में मोदी-शाह कौरव, राहुल गांधी को कृष्ण के रूप में दिखाया

Posted by

इलाहाबाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राज्यसभा में कांग्रेस सांसद रेणुका चौधरी की हंसी पर दिए गए रामायण बयान का मामला फिलहाल थमता नहीं दिख रहा है। विपक्ष की तीखी प्रतिक्रियाओं के बीच यूपी के इलाहाबाद में कांग्रेस नेताओं की तरफ से इस बयान की प्रतिक्रिया में जारी पोस्टर से एक नया विवाद खड़ा हो गया है। इस विवादित पोस्टर में महाभारत के ‘द्रौपदी चीरहरण’ की तरफ संकेत किया गया है।

इसमें बीजेपी को कौरव के रूप में दर्शाया गया है। वहीं रेणुका चौधरी को द्रौपदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को कृष्ण के रूप में दिखाया गया है। ‘रक्षमाम् राहुल भइया’ नाम से जारी पोस्टर पर लिखा है, ‘एक स्त्री की हंसी दुर्योधन को खल गई थी, याद करो 100 कौरवों की चिता जल गई थी।’

इलाहाबाद में कांग्रेस के नेता नेता हसीब अहमद और त्रिभुवन तिवारी ने यह पोस्टर जारी किया है। फेसबुक पर जारी इस पोस्टर को लेकर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं भी अब सामने आ रही हैं। इन कांग्रेसी नेताओं की तरफ से जारी इस पोस्टर में पीएम मोदी के साथ ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू की तुलना कौरवों से की गई है।

पोस्टर में बीजेपी जहां कौरव के रूप में है वहीं कांग्रेस को पांडव के रूप में दर्शाया गया है। इसमें कृष्ण के रूप में राहुल गांधी हैं तो वहीं सोनिया गांधी और प्रमोद तिवारी की भी तस्वीर पोस्टर पर है।

बता दें कि राज्यसभा में जब पीएम मोदी भाषण दे रहे थे तब कांग्रेस की सीनियर नेता रेणुका चौधरी जोर-जोर से हंस रही थीं। रेणुका की इस हंसी से पीएम के भाषण में रुकावट आ रही थी। इसपर मोदी ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से कहा था, ‘सभापति जी मेरी आपसे विनती है रेणुकाजी को कुछ मत कहिए (चुप होने के लिए मत कहिए), रामायण सीरियल के बाद ऐसी हंसी सुनने का सौभाग्य आज जाकर मिला है।’ पीएम की इस बात को सुनकर बीजेपी और सहयोगी दलों के सभी सदस्य जोर-जोर से हंसने लगे और रेणुका चौधरी की हंसी बंद हो गई।