सपा और कांग्रेस की दोस्ती कभी नहीं टूटेगी – अखिलेश यादव

सपा और कांग्रेस की दोस्ती कभी नहीं टूटेगी – अखिलेश यादव

Posted by

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बताया कि वह एमएलसी का कार्यकाल खत्म होने के बाद कया करेंगे, कांग्रेस के साथ गठबंधन का क्या भविष्य होगा ?

 

चुनाव लड़कर पहुंचेंगे सदन मे-

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के विधान परिषद के सदस्य हैं. उनका एमएलसी का कार्यकाल 5 मई 2018 तक है.अखिलेश यादव ने  सियासत में आगे के सफर के बारे में बात करते हुए साफ किया कि उनका इरादा चुनाव लड़कर सदन मे पहुंचने का है. वह विधान परिषद या राज्यसभा के सदस्य के रूप मे नही बल्कि जनता द्वारा चुनकर सदन मे पहुंचेंगे. उन्होने कहा कि कि वह एमएलसी का कार्यकाल खत्म होने के बाद 2019 में कन्नौज से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे।

कांग्रेस के साथ गठबंधन का भविष्य-

कांग्रेस के साथ गठबंधन के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि मैं यह कह सकता हूं कि हमारी दोस्ती कभी नहीं टूटेगी लेकिन जहां तक सवाल गठबंधन का है, उस पर यह ही कहना है कि हम दोनों को अपनी पार्टियों को मजबूत करना होगा। उन्होंने कहा कि सपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों को बिना कन्फ़्यूज़न कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी देनी होगी कि ज्यादा से ज्यादा सदस्य बनाएं औऱ युवाओं के बीच पहुंच बढ़ाने पर जोर दिया जाए, क्योंकि गठबंधन पर बातचीत तो कभी भी की जा सकती है।

 

समाजवादी पार्टी मे युवाओं की होगी बड़ी भूमिका-

अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी मे युवाओं की बड़ी भूमिका की बात कही. उन्होने कहा कि हर राजनीतिक पार्टी यह तो चाहती है कि युवा उनसे जुड़ें लेकिन सवाल यह है कि इन युवाओं को चुनाव में लड़ने का, राजनीति मे आगे आने का कितना मौका मिलता है। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश रही है कि जिन युवाओं ने अच्छा काम किया है उन्हें आगे लाया जाए। हमने विधानसभा के चुनाव में छात्रसंघ से निकले लोगों को मौका भी दिया है, और शायद इसी का परिणाम है कि तमाम सदनों में हमारे पास सबसे अधिक युवा सदस्य रहे हैं।